रविवार, 5 मई 2024

एक Sir और Student की कहानी | Motivational story of Life Problem

By:   Last Updated: in: ,

 एक Sir और Student की कहानी | Motivational story of Life Problem

एक Sir और Student की कहानी | Motivational story of Life Problem


Motivational story of Life Problem : एक बार की बात है एक सर क्लास में पढ़ा रहे थे वह सभी स्टूडेंट से कोई ना कोई सवाल पूछ रहे थे तभी उन्होंने देखा कि क्लास में एक बच्चा बहुत ही उदास बैठा हुआ था मानो उसके साथ बहुत बुरा हुआ हो सर ने भी उस बच्चे को कुछ नहीं पूछा और ना ही कुछ कहा 

लेकिन चार पाच दिन तक ऐसा ही चलता रहा तभी सर ने उस बच्चे के पास जाकर उससे पूछा कि बेटा तुम इतने उदास क्यों बैठ रहते हो दूसरे बच्चों की तरह तुम एंजॉय नहीं करते और किसी भी सवाल का जवाब नहीं देते हो उस लड़के ने सर से कहा कि सर मेरे अतीत में मेरे साथ कुछ बुरा हो गया था इसी वजह से मेरा किसी भी चीज में अब मन नहीं लग रहा है मैं कुछ भी कर लू दूसरे बच्चों की तरह खुश नहीं रह पा रहा हूं 

सर ने उस बच्चे की बात को पूरा सुना और अगले दिन वो सर अपने बैग में शिकंजी बनाने का सारा सामान लेकर आए और सारे बच्चे क्लास से जा जाने के बाद सर उस बच्चे के पास शिकंजी बनाने का वह सामान लेकर गए और उस सामान से उन्होंने उस लड़के को एक गिलास शिकंजी बनाकर दिया लड़के को लगा कि सर यह सब कुछ मुझे खुश करने के लिए कर रहे हैं 

सर ने लड़के की तरफ शिकंजी का गिलास बढ़ाया और उसे पीने के लिए कहा लड़के ने जैसे ही शिकंजी का एक जिप लिया तो उसे उस शिकंजी में नमक ज्यादा लगा उसने सर से कहा कि सर इस शिकंजी में नमक ज्यादा हो गया है तभी सर ने उस लड़के से कहा ठीक है लाओ मैं इसे फेंक देता हूं लड़के ने सर से कहा सर इसे फेंकने की जरूरत नहीं है 

अगर इसमें थोड़ी शक्कर मिला देंगे तो यह खुद बखुदा मीठा और अच्छा हो जाएगा तभी सर ने उस लड़के की तरफ मुस्कुराते हुए देखा और कहा यही सेम चीज मैं तुम्हें आज इस शिकंजी के जरिए समझाने आया था हमारी जिंदगी भी बिल्कुल इस शिकंजे की तरह है और हमारे पास्ट में जो बुरी और दुखद चीजें हमारे साथ हुई है व उस शिकंजी में मिले नमक की तरह है जब हमारे पास्ट में कुछ बहुत बुरा हुआ हो जिसकी वजह से हमारी जिंदगी बिल्कुल कड़वी हो जाती है तब हमें उसमें कुछ अच्छे पल ऐड करने की जरूरत होती है जिस तरह से शिकंजी में नमक ज्यादा हो गया था 

लेकिन उसमें शक्कर मिलाने के बाद वह मीठा हो गया उसी तरह हमें भी हमारे बीते हुए कल को भूलकर उसमें खुशि ऐड करनी चाहिए ताकि हमारी बुरी यादें हमारी अच्छी यादों से ज्यादा हो जाए और हमारी जिंदगी फिर से मीठी और खुश हो जाए जो पास्ट में हो गया वो हो गया उसकी वजह से आज उदास मत रहो क्योंकि हमारा आज भी आगे चलकर कल में बदल जाएगा और हम फिर से उस कल की वजह से उदास रहने लगेंगे इसीलिए खराब चीजों को भूलते हुए आगे बढ़ो और अपनी लाइफ में पॉजिटिव रहो और जितना हो सके अच्छा और पॉजिटिव सोचो तो अगर आप इस कहानी को और भी लोगों तक पहुंचाना चाहते हो तो इस पोस्ट को शेयर करिए ताकि



कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment